Report Times
latestOtherआक्रोशकृषिटॉप न्यूज़ताजा खबरेंदिल्लीस्पेशल

दिल्ली: किसानों के दिल्ली कूच से थम गया नोएडा, रेंग रही गाड़ियां; क्रेन, बुलडोजर और कमांडो तैनात

REPORT TIMES 

Advertisement

किसानों के दिल्ली कूच की वजह से नोएडा की ट्रैफिक व्यवस्था चरमरा गई है. एक तरफ पुलिस ने किसानों को रोकने के लिए जगह जगह बैरिकेटिंग की है, वहीं दूसरी ओर नोएडा की सड़कों पर वाहनों के पहिए थम गए हैं. कई सड़कों पर तो हालात ऐसे बन गए हैं कि घंटों से वाहन एक कदम भी आगे नहीं बढ़ पाए हैं. हालात को देखते हुए नोएडा पुलिस ने दिल्ली से जुड़ी सीमाओं पर सुरक्षा बढ़ा दी है. मुआवजे और नौकरी की मांग को लेकर सड़क पर उतरे किसान भी आज आरपार की लड़ाई के मूड में हैं.इसी क्रम में किसानों ने संसद तक मार्च का आह्वान किया है. जबकि नोएडा पुलिस ने हालात को देखते हुए दिल्ली से लगती हुई सीमाओं पर सुरक्षा बढ़ा दी. कहीं रूट डायवर्जन किया गया है तो कई स्थानों पर सड़क बंद कर दी गई है. इससे नोएडा से दिल्ली जाने वाले डीएनडी, चिल्ला और कालिंदी कुंज बॉर्डर पर लंबा जाम है. इस समस्या के समाधान के लिए पुलिस और प्रशासन के अधिकारी लगातार किसानों से बातचीत भी कर रहे हैं. हालांकि अभी तक कोई हल नहीं निकल सका है. नोएडा पुलिस के अधिकारियों के मुताबिक किसान आंदोलन को देखते हुए फिलहाल दिल्ली बॉर्डर के साथ ही किसान चौक पर बैरियर लगाए गए हैं. इन सभी स्थानों पर पर्याप्त संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है.

Advertisement

Advertisement

महामाया फ्लाईओवर पर जमे हैं किसान

Advertisement

एक एक गाड़ी को विधिवत जांच के बाद ही आगे जाने दिया जा रहा है. इसके चलते यातायात धीमा चल रहा है. हालात को काबू करने के लिए पुलिस और प्रशासन के तमाम वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर मौजूद हैं. बता दें कि भारतीय किसान परिषद (बीकेपी) ने जिले के तमाम किसानों से गुरुवार की दोपहर साढ़े 12 बजे तक नोएडा के महामाया फ्लाईओवर पहुंचने का आह्वान किया था. बीकेपी नेता सुखबीर यादव खलीफा ने बताया कि महामाया फ्लाईओवर के नीचे एकत्र होने के बाद किसानों को दिल्ली कूच करना था.यहां से किसान प्रदर्शन करते हुए शांति पूर्वक तरीके से संसद तक जाने वाले थे. लेकिन पुलिस ने पहले ही किसानों को रोक दिया है.

Advertisement

मुआवजा और नौकरी की मांग

Advertisement

उधर, नोएडा पुलिस कमिश्नरेट ने पहले ही किसानों के इस प्रदर्शन को देखते हुए जिले में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दिया है. पुलिस लगातार लोगों को समझा रही है कि कहीं भी एकत्र ना हों. इसी के साथ पुलिस ने आम वाहन चालकों के लिए एडवाइजरी भी जारी की है. उल्लेखनीय है कि दिसंबर 2023 में विकास प्राधिकरणों ने किसानों की जमीन अधिग्रहित की थी. इसी अधिग्रहण के मुआवजे को लेकर विवाद चल रहा है. इसके विरोध में नोएडा और ग्रेटर नोएडा के किसान सड़क पर उतरे हैं. किसानों का आरोप है कि एनटीपीसी ने अलग रेट से मुआवजा दिया है. इसी के साथ नौकरी देने का वादा भी पूरा नहीं किया है.

Advertisement

धरने पर बैठे किसान

Advertisement

पुलिस द्वारा रोके जाने के बाद किसान सड़क पर बैठकर धरना दे रहे हैं. किसानों का आरोप है कि उनके साथ लगातार धोखा हो रहा है. पहले उन्हें आश्वासन दिए गए और अब सरकार अपनी ही बात से मुकर रही है. किसानों का कहना है कि वह कई दिनों से धरना प्रदर्शन कर रहे हैं, लेकिन सरकार उनकी सुनवाई नहीं कर रही. इस समय किसान महामाया फ्लाईओवर से आगे बढ़कर सेक्टर-18 फ्लाईओवर से ठीक पहले दलित प्रेरणा स्थल के मेन गेट के सामने बैठे हैं. यहां किसानों की संख्या 400 से अधिक बताई जा रही है.

Advertisement
Advertisement

Related posts

अडानी पावर में इन छह कंपनियों का होगा विलय, बोर्ड ने दी मंजूरी

Report Times

Ghee Roasted Dry Fruits: घी में भुने ड्राई फ्रूट्स खाने से होते हैं ये फायदे, आप भी जानें

Report Times

CM योगी का नंदी (गाय) के प्रति है कितना लगाव

Report Times

Leave a Comment