Report Times
latestOtherजयपुरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजस्थानरेलवेस्पेशलहादसा

राजस्थान: हाई टेंशन बिजली के तार टूटकर गिरे ट्रेन पर,कोटा-सवाई माधोपुर के बीच करीब 4 घंटे तक रेल संचालन रहा ठप, बाल-बाल बची यात्रियों की जान

REPORT TIMES 

Advertisement

बूंदी जिले के अनरेठा रेलवे स्टेशन पर दिल्ली-मुंबई रेलवे लाइन पर विद्युत तार गिरने से बड़ा हादसा टल गया. तार सीधा पैसेंजर ट्रेन की बोगियां पर जाकर गिरा तो यात्रियों में हड़कंप मच गया. बताया जा रहा है कि देर रात अजमेर-जबलपुर दयोदय एक्सप्रेस से बिजली के ओएचई तार टूट गए. इसके बाद 4 घंटो तक तारों की मरम्मत का काम चला.

Advertisement

4 घंटे तक ठप रहा रेल संचालन

Advertisement

इस दौरान कोटा-सवाई माधोपुर के बीच करीब 4 घंटे तक रेल संचालन ठप रहा. रास्ते में घंटों ट्रेन खड़े रहने से यात्री परेशान होते रहे. घटना के बाद अधिकारी भी कोटा कंट्रोल रूम पहुंच गए. फिलहाल घटना के कारणों का पता नहीं चला है. अधिकारी मामले की जांच में जुटे हुए हैं. पर बताया जा रहा है कि जॉइंट खुलने से तार टूटने की यह घटना हुई. गनीमत यह रही की ट्रेन की बगियां में करंट नहीं तोड़ा वरना बड़ा हादसा हो सकता था.

Advertisement

Advertisement

पहले भी हो चुकी हैं घटनाएं

Advertisement

जानकारी के अनुसार बूंदी रेल खंड पर ओएचई टूटने की यह पहली घटना नहीं है. इससे पहले भी यहां ओएचई टूटने की कई घटनाएं सामने आ चुकी हैं. लेकिन किसी भी जांच रिपोर्ट के सामने नहीं आने से तार टूटने के कारणों का पता नहीं चला है. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि ट्रेन जैसे ही जयपुर, सवाईमाधोपुर होते हुए अनरेठा रेलवे स्टेशन पर पहुंची तो अचानक से हल्के धमाके की आवाज आई और बाहर जाकर देखा तो और तार टूटे हुए पड़े थे. तार का कुछ हिस्सा एक बोगी पर भी पड़ा हुआ था. पता करने पर जानकारी में सामने आया की तार टूटने के साथ ही रेलवे प्रशासन को लोको पायलट ने सूचना दी तो तार में विद्युत प्रभाव को बंद करवाया गया.

Advertisement

इंजन का पैंटोग्राफ भी क्षतिग्रस्त

Advertisement

यात्रियों ने बताया कि इस घटना से ट्रेन के इंजन का पैंटोग्राफ भी क्षतिग्रस्त हो गया था. इसके बाद डीजल इंजन से ट्रेन को कोटा तक लाया गया. इसके चलते दयोदय ट्रेन करीब ढाई घंटे देरी से रात 11:45 बजे कोटा पहुंची. इसी तरह दिल्ली-मुंबई राजधानी (12952) तीन घंटा देरी से रात 12.30, निजामुद्दीन-मुंबई अगस्त क्रांति (12954). तीन घंटे देरी से रात एक बजे, जोधपुर-भोपाल 3:30 घंटे देरी से रात 2:25 बजे, जयपुर-चेन्नई पौने तीन घंटे देरी से रात 1:35 बजे तथा अमृतसर-मुंबई डीलक्स करीब साढे़ तीन घंटे देरी से रात 2.55 बजे कोटा पहुंची. इस दौरान ट्रेन में और स्टेशन पर यात्री परेशान होते रहे. यात्रियों ने बताया कि बार-बार पूछने के बाद भी रेलवे द्वारा ट्रेन के पहुंचने का सही समय नहीं बताया जा रहा था और न ही ट्रेन देरी से चलने के कारणों की घोषणा की जा रही थी. कई बार तो ट्रेन देरी से चलने को यात्रा का हिस्सा बताया गया.

Advertisement
Advertisement

Related posts

महाविद्यालय स्तर के विद्यार्थियों के मध्य पोस्टर/ड्राईंग प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था।

Report Times

अमेरिका ने चीन को लेकर दिया ये बयान

Report Times

बावलिया बाबा महिला भक्त मंडल ने 11 हजार का दिया सहयोग

Report Times

Leave a Comment